BDO ऑफिसर कैसे बने?

अगर आप BDO बनना चाहते है या फिर BDO अफसर कैसे बने इन हिंदी में जानना चाहते हो इस लेख आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा।

BDO कैसे बने? BDO यानी कि ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर, जिसे हिंदी में विकास खंड का अधिकारी कहां जाता है। किसी भी ब्लॉक में एक महत्वपूर्ण पद होता है क्योंकि ब्लॉक से संबंधित महत्वपूर्ण कामों को करने की जिम्मेदारी विकासखंड के अधिकारी के ऊपर ही होती है।

विकास खंड के अधिकारी की पोस्टिंग पुरुष और महिला दोनों को दी जाती है।ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की पोस्ट एक गवर्नमेंट पोस्ट होती है। इस प्रकार कई विद्यार्थी BDO बनने की इच्छा रखते हैं और वह यह जानना चाहते हैं कि BDO की तैयारी कैसे करे?

BDO क्या होता है?

इस सेक्शन में आप BDO क्या है अछे तरीक़े से जान जाएँगे ? ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पद पर तैनात व्यक्ति के पास उसके एरिया में आने वाले सभी गांवों के विकास के निरीक्षण करने की जिम्मेदारी होती है।

BDO Kaise Bane

इसके अलावा अगर गांव की जनता किसी गांव के प्रधान की जांच की डिमांड करती है, तो उस जांच को करवाने की जिम्मेदारी भी ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के ऊपर ही होती है।

किसी भी एरिया में वहां के डेवलपमेंट के लिए मुख्य अधिकारी ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर ही होता है। ब्लॉक लेवल पर डेवलपमेंट कराने वाले ऑफिसर को ही खंड विकास अधिकारी यानी कि ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर कहा जाता है।

BDO का फुल फॉर्म क्या है?

अंग्रेजी में बीडीओ का फुल फॉर्म “Block Development Officer” होता है,इसे ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के तहत हिंदी भाषा में उच्चारित किया जाता है। यहाँ हम जानते है की बीडीओ का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है और ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर को हिंदी भाषा में खंड विकास अधिकारी या फिर ब्लॉक विकास अधिकारी भी कह कर बुलाया जाता है।

BDO कैसे बने 2022?

ऐसे कई स्टूडेंट हैं जो अच्छी पढ़ाई लिखाई करके अपनी जिंदगी में एक अच्छी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं। इंडिया की बात की जाए तो इंडिया में सबसे ज्यादा लोग गवर्नमेंट नौकरी में जाना पसंद करते हैं,क्योंकि सरकारी नौकरी के कई फायदे होते हैं।

इसलिए लोगों के बीच गवर्नमेंट नौकरी का बहुत ही ज्यादा क्रेज है। ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की नौकरी भी गवर्नमेंट जॉब होती है। इस प्रकार अगर आपको BDO बनना है तो इस आर्टिकल में आप जानेंगे की BDO Kaise Bane और BDO बनने के लिए क्या करें।

अगर आप चाहते हो की ACP कैसे बने, CBI कैसे बने तो इसे क्लिक जरुर करे।

#1. बीडीओ बनने के लिए योग्यता

ऐसे स्टूडेंट, जो ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर बनना चाहते हैं या फिर भविष्य में ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर बनने की इच्छा रखते हैं, उन्हें इंडिया के किसी भी सर्टिसाइड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री को पूरा करना जरूरी है, क्योंकि वही अभ्यर्थी ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पद के लिए अप्लाई कर सकते हैं, जिन्होंने ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है। यहाँ आप बी.ए के बाद क्या करें पढ़ सकते हैं।

अभ्यर्थी अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई किसी भी सब्जेक्ट में कर सकते हैं और बीडीओ की एग्जाम में बैठ सकते हैं।

#2. BDO बनने के लिए उम्र सीमा

सामान्य वर्ग के अभ्यर्थियों के लिए कम से कम 21 साल और अधिक से अधिक 40 साल तक की उम्र सीमा ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर बनने के लिए तय की गई है, वही जो लोग आरक्षण की श्रेणी में आते हैं, उन्हें उम्र सीमा में छूट दी गई है।

जैसे कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों को उम्र सीमा में 5 साल की छूट दी गई है, जबकि अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को उम्र सीमा में 3 साल की छूट दी जाती है।

BDO का एग्जाम कैसे होता है?

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर बनने के लिए अभ्यर्थियों को तीन प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। इसमें सबसे पहले उन्हें प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होना पड़ता है,उसके बाद मुख्य परीक्षा में और सबसे आखिरी में उन्हें इंटरव्यू में शामिल होना पड़ता है।

जो अभ्यर्थी इन तीनों प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पार कर लेते हैं उनका सिलेक्शन ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पद पर हो जाता है। इसके बाद उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है और ट्रेनिंग पूरी करने के बाद उन्हें ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पद पर पोस्टिंग दे दी जाती है। इसके बाद वह अपना काम स्टार्ट कर सकते हैं।

#1. ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की प्रारंभिक एग्जाम

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पद के लिए एग्जाम का आयोजन करवाया जाता है और इस एग्जाम में जो अभ्यर्थी शामिल होना चाहते हैं,उन्हें ऑफलाइन या फिर ऑनलाइन फॉर्म भरना पड़ता है।

इसके बाद एक निश्चित दिन पर इसकी प्रारंभिक परीक्षा होती है, जिसमें अभ्यर्थियों को शामिल होना पड़ता है। इस एग्जाम में अभ्यर्थियों को क्वेश्चन पेपर हल करने होते हैं। इसके लिए UPSC के द्वारा अभ्यर्थियों को टोटल 2 घंटे का समय क्वेश्चन पेपर को सॉल्व करने के लिए प्रदान किया जाता है।

#2. ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की मुख्य एग्जाम

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की प्रारंभिक एग्जाम को पास करने के बाद अभ्यर्थी को अगले चरण में इसकी मुख्य एग्जाम में शामिल होना पड़ता है। इस एग्जाम में टोटल 4 क्वेश्चन पेपर होते हैं, जिनके सवालों के जवाब अभ्यर्थियों को देने पड़ते हैं।

इसके अलावा अभ्यर्थी के द्वारा चुने गए दो ऑप्शनल सब्जेक्ट में से 4 क्वेश्चन पेपर भी कराए जाते हैं। इसमें अनिवार्य क्वेश्चन पेपर में जनरल हिंदी और निबंध के लिए 150-150 अंक के 2 क्वेश्चन पेपर और जनरल स्टडी के 2 क्वेश्चन पेपर 200-200 अंकों के कराए जाते हैं।

#3. ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की नियुक्ति

UPSC के द्वारा करवाई जाने वाली ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की प्रारंभिक एग्जाम और मुख्य परीक्षा को पास करने के बाद तीसरे और सबसे आखरी स्टेप में अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलावा भेजा जाता है।

इस इंटरव्यू लेने वाले पैनल के द्वारा ऐसे क्वेश्चन पूछे जाते हैं,ताकि अभ्यर्थी की मानसिक क्षमता और उसकी तर्कशक्ति और उसकी योग्यता के बारे में पता लगाया जा सके। जो अभ्यर्थी इंटरव्यू में जैसा परफॉर्मेंस देता है, उसका सिलेक्शन उसी आधार पर होता है।

इसलिए आपको इंटरव्यू को अच्छे अंकों के साथ पास करने की आवश्यकता होती है। इंटरव्यू के राउंड को पास करने के बाद यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन के द्वारा एक निश्चित दिन पर मेरिट लिस्ट जारी की जाती है और उसी मेरिट लिस्ट के आधार पर ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के पोस्ट पर विद्यार्थियों को नियुक्ति दी जाती है।

BDO ऑफिसर Salary

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की नौकरी गवर्नमेंट जॉब होती है। इसीलिए इसमें अच्छी सैलरी मिलती है। यहाँ पे सवाल आता है की ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर की सैलरी कितनी है। एक ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर को महीने की सैलरी के तौर पर तकरीबन ₹45,000 से लेकर ₹60,000 तक प्राप्त होते हैं।

इसके अलावा भी गवर्नमेंट के द्वारा ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर को महंगाई भत्ता, यात्रा भत्ता, मेडिकल खर्चा और हाउस रेंट जैसे खर्चे दिए जाते हैं। इसके अलावा इनके बिजली का बिल, फोन का बिल और शिक्षा के लिए भी मुफ्त में भत्ता उपलब्ध करवाया जाता है।

BDO को हिंदी में क्या कहते हैं?

BDO को हिंदी में खंड विकास अधिकारी कहा जाता है।

BDO का फुल फॉर्म क्या होता है?

BDO का फुल फॉर्म होता है ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर।

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है?

इसके लिए आपको ग्रेजुएशन की पढ़ाई किसी भी कोर्स से कंप्लीट करनी पड़ती है।

निष्कर्ष

तो साथियों हमें आशा है BDO कैसे बने आप समझ गए होंगे। यह लेख पढने के बाद BDO की तेयारी करने में आपकी मदद करेगा। अगर आप इस लेख में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो इसे शेयर करना न भूलें। और अधिक जानकारी केलिए हमें कमेंट करें।