BSc के बाद क्या करे कोर्स?

BSc के बाद क्या करे जानना चाहता है? यह तीन साल का कोर्स है जिसमें गणित, भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान और अन्य विज्ञान के विषय शामिल हैं।

वैसे तो विद्यार्थी दसवीं कक्षा को पास करने के बाद ही अपने फ्यूचर के लिए चिंतित होने लगते हैं, परंतु जब वह 12वीं कक्षा को पास करते हैं. तो उनकी यह चिंता और भी ज्यादा बढ़ जाती है. क्योंकि 12वीं कक्षा को पास करने के बाद ही उन्हें यह पता चलता है कि अब वह समय आ गया है जब उन्हें एक ऐसे कोर्स का सिलेक्शन करना है, जिसे करके वह अपनी जिंदगी में एक अच्छी नौकरी प्राप्त कर सके या फिर एक सक्सेसफुल व्यक्ति बन सके।

आज हम आपको बीएससी के बाद क्या करे बारेमे मौजूद कुछ बेहतरीन करियर ऑप्शन के बारे में बताएंगे।

BSc क्या होता है?

बीएससी का मतलब Bachelor of Science होता है, जिसे 12वीं कक्षा को पास करने के बाद साइंस की डिग्री हासिल करने के लिए अधिकतर स्टूडेंट करते हैं। साइंस के विषयों के साथ 12वीं की कक्षा को पास करने के बाद अधिकतर विद्यार्थी बीएससी के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कोशिश करते हैं।

Bsc ke baad kya kare

कुल 3 साल का समय विद्यार्थियों को बैचलर ऑफ साइंस (BSC) के कोर्स को पूरा करने के लिए देना होता है और 3 साल के बाद जो विद्यार्थी इस कोर्स को पास कर लेते हैं,उन्हें बीएससी का सर्टिफिकेट दिया जाता है।

बीएससी के बाद क्या करना चाहिए?

तो दोस्तों अगर हम सोचेंगे की BSc Ke Baad Konsa Course Kare, जो विद्यार्थी 12वीं कक्षा के साइंस के विषय के साथ पास करते हैं वह आगे चलकर अधिकतर बीएससी यानी की बैचलर ऑफ साइंस का कोर्स करते हैं, इसके अलावा बीएससी के बाद क्या करें, यह सवाल कई विद्यार्थियों का होता है।

चूंकि आज के टाइम में बीएससी का कोर्स करने वाले स्टूडेंट की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। जो व्यक्ति बीएससी का कोर्स पूरा कर लेता है वह इस कोर्स को करने के बाद चाहे तो अपना खुद का बिजनेस स्टार्ट कर सकता है या फिर किसी कंपनी में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकता है।

अगर आपने बीएससी का कोर्स पूरा कर लिया है और आप यह जानना चाहते हैं कि, बीएससी के बाद क्या जॉब करें, तो ये सूचि आपके लिए है

#1. MSC (Master of Science)

यह जाहिर सी बात है कि व्यक्ति बीएससी को करने के बाद एमएससी का कोर्स करता है। इसीलिए अगर आपने बीएससी का कोर्स कर लिया है तो आप एमएससी (MSC) का कोर्स कर सकते हैं। एमएससी यानी कि मास्टर ऑफ साइंस का कोर्स, यह पोस्टग्रेजुएट डिग्री कोर्स होता है।

स्टूडेंट को साइंटिफिक, मैथमेटिकल और Theoretical जैसे सब्जेक्ट की काफी गहराई से मास्टर ऑफ साइंस के कोर्स में प्रोफेसर के द्वारा पढ़ाई करवाई जाती है। एमएससी का कोर्स बीएससी के कोर्स को करने के बाद किया जाता है और यह टोटल 2 साल का कोर्स होता है, जो भी विद्यार्थी MSC में एडमिशन लेना चाहते हैं, उनके बीएससी में कम से कम 55% Marks अवश्य होने चाहिए।

#2. MBA

बैचलर ऑफ साइंस के कोर्स को पूरा करने के बाद ऐसे स्टूडेंट जो फाइनेंस या फिर बिजनेस की फील्ड में अपने कैरियर बानाना चाहते हैं, वह चाहे तो एमबीए के कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। यहाँ आप एम.बी.ए के बाद क्या करें? पढ़ सकते हें।

जब आप एमबीए का कोर्स पूरा कर लेते हैं तो आपको पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री प्राप्त हो जाती है। फिर आप चाहे तो किसी बड़ी MNC कंपनी में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। एमबीए के कोर्स में एडमिशन पाने के लिए बीएससी का कोर्स आपको कम से कम 50 परसेंट अंकों के साथ पास करना पड़ेगा।

इंडिया में एमबीए का कोर्स करने के लिए बहुत ही अच्छे इंस्टीट्यूट मौजूद है, परंतु बेस्ट इंस्टीट्यूट एमबीए का कोर्स करने के लिए IIM को माना जाता है, क्योंकि यहां से जो भी व्यक्ति एमबीए का कोर्स पास करता है, उसका प्लेसमेंट सीधा बड़ी-बड़ी कंपनियों में होता है।

कई राज्यों में एमबीए के कोर्स में एडमिशन लेने के लिए विभिन्न प्रकार के एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन होता है, जिसे आपको क्लियर करना होता है एमबीए में एडमिशन पाने के लिए। यदि आप सोच रहें हे की एमबीए के बाद क्या करे तो इस लेख को जरूर पढ़े और ये लेख आपके लिए बेहत फायदेमंद हो सकता हे।

#3. MCA

बीएससी का Course कंप्लीट करने के बाद अगर आपको कंप्यूटर की फील्ड में कैरियर बनाना है, तो आप कंप्यूटर की फील्ड से संबंधित कोर्स यानी की एमसीए का कोर्स कर सकते हैं। एमसीए यानी कि मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन का कोर्स भी पोस्ट ग्रैजुएट डिग्री कोर्स होता है और इसमें आप बीएससी के कोर्स को पूरा करने के बाद एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन के कोर्स में एडमिशन पाने करने के लिए कम से कम 55 परसेंट अंक आपके बीएससी के कोर्स में होने चाहिए। MSc का यह कोर्स टोटल 3 साल का कोर्स होता है‌

#4. B.Ed

ऐसे विद्यार्थी जो टीचिंग की लाइन में जाना चाहते हैं या फिर जो एजुकेशन की फील्ड में अपने कैरियर को स्थापित करना चाहते हैं,वह बीएससी के Course को पूरा करने के बाद B.Ed. यानी की बैचलर ऑफ एजुकेशन के कोर्स में एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं।

बैचलर ऑफ एजुकेशन के कोर्स में दाखिला लेने के लिए आवेदकों को बीएससी का कोर्स पूरा करने के बाद कम से कम 50% अंक लाने होते हैं। इंडिया में ऐसे कई इंस्टीट्यूट और कॉलेज है, जो B.Ed. के कोर्स में एडमिशन देने के पहले एंट्रेंस एग्जाम का आयोजन करते हैं और जो विद्यार्थी एंट्रेंस एग्जाम को पास करते हैं उन्हें ही एडमिशन दिया जाता है।

बीएससी करने के बाद अगर कोई विद्यार्थी B.Ed. का कोर्स करता है तो उसे 2 साल का समय इस कोर्स को करने के लिए देना पड़ता है। B.Ed. का कोर्स करने के बाद विद्यार्थी एजुकेशन रिसर्चर, टीचर, काउंसलर, लाइब्रेरियन या फिर एडमिनिस्ट्रेटर बन सकता है। बी.एड के बाद क्या करें के बारेमे अधिक जानकारी प्राप्त करने केलिए इसे पढ़ना ना भूलें।

#5. B.Tech

इंजीनियरिंग की फील्ड में कैरियर स्थापित करने वाले विद्यार्थी B. Tech का अधिकतर कोर्स करते हैं। सामान्य तौर पर जब विद्यार्थी B. Tech के कोर्स में एडमिशन लेते हैं, तो उन्हें इस कोर्स को करने के लिए 4 साल का समय देना पड़ता है, परंतु अगर कोई विद्यार्थी बीएससी करने के बाद बीटेक के कोर्स में एडमिशन लेता है,तो उसे सीधा B. Tech के दूसरे साल में एडमिशन प्राप्त हो जाता है।

बीटेक पास आउट लोगों की भर्ती बजाज, टाटा मोटर,माइक्रोसॉफ्ट, गूगल,फेसबुक, टीसीएस, और इंफोसिस जैसी कंपनियां बड़ी मात्रा में करती हैं।

BSc Ke Baad Medical Course

मेरे दोस्त, करियर के मामले में इंजीनियरिंग के बाद अब मेडिसिन सबसे लोकप्रिय क्षेत्र है। स्वास्थ्य सेवा उद्योग में अपना करियर बनाने के लिए हर साल हजारों छात्र विभिन्न मेडिकल डिग्री हासिल करते हैं। चिकित्सा में प्रवेश करने के लिए, आपको 10 वीं कक्षा के बाद सामान्य रूप से प्राकृतिक विज्ञान और पीसीबी (भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान) लेने की जरूरत है।

बीएससी के बाद नौकरी

अगर आप Bsc Ke Baad Government Job या बीएससी का कोर्स पूरा करने के बाद आगे पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं तो आप विभिन्न प्रकार की गवर्नमेंट जॉब में नौकरी पाने के लिए अप्लाई कर सकते हैं या फिर आप प्राइवेट सेक्टर में मौजूद कंपनी में भी नौकरी कर सकते हैं।

BSC का पूरा नाम क्या है?

बी एस सी का पूरा नाम बैचलर ऑफ साइंस होता है।

बीएससी कितने साल का कोर्स होता है?

टोटल 3 साल का कोर्स बीएससी का कोर्स होता है।

बीएससी कैसे किया जा सकता है?

12वीं की कक्षा में साइंस के सब्जेक्ट के साथ 12वीं कक्षा को पास करने के बाद आप बीएससी के कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं।

बीएससी के बाद कैरियर क्या है?

बीएससी के बाद हमने आपको ऊपर सभी प्रकार के कैरियर की जानकारी दी है।

अन्तिम शब्द

तो साथियों हमें आशा है बीएससी के बाद क्या करे आप समझ गए होंगे। यह लेख पढ़कर यह आपको अपने लिए एक उपयुक्त कैरियर सिलेक्ट करने में आपकी मदद करेगा। अगर आप इस लेख में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो इसे शेयर करना न भूलें।