कंबोडिया की राजधानी कहाँ है?

कंबोडिया की राजधानी और कंबोडिया की राजधानी हिंदी में अधिक जानकारी प्राप्त करने केलिए अंत तक बने रहे।

आईये Cambodia Ki Rajdhani Kahan Hai के बारेमे कुछ जानते हैं। कंबोडिया देश जो की एशिया महाद्वीप के दक्षिण पूर्वी क्षेत्र में मेकांग नदी और पहाड़ो से लेकर थाईलैंड की खाड़ी तक फैला हुआ है। कंबोडिया कहने के लिए यह एक लोकतांत्रिक देश है, मगर यह बात सिर्फ कहने में ही सही लगती है क्योंकि पिछले कई दशकों से यहां पर एक ही हुकूमत का राज है। कंबोडिया के साथ साथ गोवा की राजधानी कहाँ है के बारेमे जानने केलिए इसे जरुर पढ़ें और कंबोडिया एक काफी सुंदर देश है, प्राकृतिक संपदा से परिपूर्ण एक फलता फूलता देश है। इस पोस्ट में आप कंबोडिया की राजधानी कहां है? जानेंगे।

पर्यटकों के लिए यह किसी स्वर्ग से कम नहीं है। जैसे यह देश काफी सुंदर है, वैसे ही इस देश की राजधानी भी काफी सुंदर है। तो आज के इस आर्टिकल में हम इसी सुंदर शहर यानी कंबोडिया की राजधानी कौन सी है के बारे में जानेंगे, इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक जरूर पढ़े।

कंबोडिया की राजधानी क्या है?

कंबोडिया की राजधानी नोम पेन्ह है। कंबोडिया की ही तरह उसकी राजधानी प्राकृतिक संपदा से परिपूर्ण है और इस शहर का नाम नोम पेन्ह (Phnom Penh) है। नोम पेन्ह यहां की राजधानी के साथ ही साथ इस देश का सबसे बड़ा शहर भी है।

Cambodia Ki Rajdhani Kahan Hai.

कम्बोडिया की अधिकारिक भाषा खमेर या कम्बोडियाई भाषा है। खमेर भाषा खमेर जाति की प्रमुख भाषा है। अगर आपको ऑस्ट्रेलिया की राजधानी और अमेरिका की राजधानी कहाँ है जानना है तो इसे पढ़े।

ये भी पढ़े:-

  1. उत्तर प्रदेश की राजधानी कहाँ है?
  2. असम की राजधानी कहाँ है?
  3. गुजरात की राजधानी कहाँ है?

कंबोडिया देश घूमने के लिए वीज़ा कैसे प्राप्त करें?

कंबोडिया देश लाओस, वियतनाम, थाईलैंड और म्यांमार इन सब का एक पड़ोसी देश है। जहां पर कोई भी अपने परिवार या दोस्तों के साथ छुट्टियां मनानें जा सकता हैं और वहां के धार्मिक और सांस्कृतिक चीजों का आनंद ले सकता हैं। मगर कंबोडिया एक दूसरा देश है और किसी भी दूसरे देश में जाने के लिए वीज़ा चाहिए होता है। तो आइए देख लेते है कंबोडिया जाने के लिए वीज़ा कैसे प्राप्त किया जा सकता है-

3 तरीको से कोई भी कंबोडिया का वीज़ा पा सकता हैं:

  • ई-वीज़ा
  • वीज़ा अप्लाई इन एंबेसी
  • वीज़ा ऑन अराइवल

#1. ई-वीज़ा

पहला तरीका ई-वीज़ा अप्लाई करना है। फिर ई-वीज़ा के साथ कोई भी कंबोडिया जा सकता हैं। ई-वीज़ा लगभग 2500 भारतीय रुपया के भुगतान में बन जाता है, इसकी सबसे खास बात यह है कि कोई भी अपने घर से बैठ कर फोन या कंप्यूटर की मदद से ई-वीज़ा के लिए अप्लाई कर सकता हैं।

https://www.evisa.gov.kh/ इस लिंक पर टैप कर के कोई भी सीधा ई-वीज़ा ऑनलाइन अप्लाई करने वाली वेबसाइट पर जा सकता है। इसमें फ्लाइट वगैरा की एडवांस बुकिंग की जरुरत नही होती है, तो किसी को घबराने की जरूरत नहीं है।

#2. वीज़ा अप्लाई इन एंबेसी

मान लेते है कोई भी दिल्ली में रहता हैं तो वह दिल्ली में बनी कंबोडिया की एंबेसी से भी वीज़ा ले सकता है, या अगर वह मुंबई या किसी और राज्य में रहता है, तो वह अपने शहर के कम्बोडियन एंबेसी के काउंसुलेट्स से कंबोडिया का स्टीकर वीज़ा ले सकते है। कंबोडिया की यह सबसे खास बात है की वह आपको स्टीकर वीज़ा देता है। यह स्टीकर वीज़ा आपको 30 दिन की वैलिडिटी के साथ मिलता है।

#3. वीज़ा ऑन अराइवल

वीज़ा ऑन अराइवल कंबोडिया दो जगह पर देता है। अगर कोई कंबोडिया के किसी भी बॉर्डर से कंबोडिया जाता है, जैसे की थाईलैंड, वियतनाम या लाओस से तो वह 30 अमेरिकी डॉलर का शुल्क देकर वीज़ा ऑन अराइवल दे दिया जाता है। तो जब भी आप कंबोडिया घूमने जाए तो कंबोडिया के पड़ोसी देश भी घूम सकते है। वे सब भी पर्यटन की दृष्टि से काफी बेहतरीन हैं।

कंबोडिया से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।

Cambodia Ki Rajdhani के बारेमे निचे दिए गये कुछ तथ्य है जिसको पढ़ कर आपोको पता लग जायेगा की, आखिर कंबोडिया देश एक बहुत बढ़िया देश है। आईये इसके बारेमे अधिक जानकारी प्राप्त करते हैं।

  • कंबोडिया देश का पूरा और आधिकारिक नाम है “द किंगडम ऑफ कंबोडिया” है।
  • इस पूरे देश में हर तरफ आपको बौद्ध धर्म के लोग देखने को मिल जाएंगे।
  • यह खूबसूरत देश 1,8100,35 वर्ग किमी में फैला हुआ है।
  • इस देश के टोटल एरिया का 2.7 प्रतिशत हिस्सा सिर्फ पानी ही है।
  • अगर इस देश की आबादी की बात करें तो वह एक करोड़ बावन लाख अट्ठासी हजार है। आबादी के हिसाब से यह पूरी दुनिया का 73वा सबसे बड़ा देश है।
  • कंबोडिया में चलने वाली मुद्रा का नाम कम्बोडियन रियाल है, जो की भारतीय रुपए के सामने बहुत ही कमजोर है। भारत का 1 रुपए 55 कम्बोडियन रियाल के बराबर है।
राजधानीनोम पेन्ह
राजभाषाखमेर
आधिकारिक लिपिखमेर
धर्म (2019)बौद्ध धर्म (आधिकारिक) | इसलाम | ईसाई धर्म
सरकारएकात्मक प्रभुत्व वाली पार्टी | वैकल्पिक | संवैधानिक
क्षेत्र181,035 किमी
जनसंख्या (2021 अनुमान)17,300,000
मुद्राKHR| USD (unofficial)
  • हिंदू धर्म का सबसे प्राचीन और बेहद खूबसूरत मंदिर अंगकोर वाट भी आपको यहीं पर देखने को मिलेगा।
  • कंबोडिया एशिया के सबसे गरीब देशों में से एक गिना जाता है।
  • यहां पर एक रोचक प्रथा है और वह है कभी भी अपना जन्मदिन न मनाने की।
  • कंबोडिया का लिट्रेसी रेट 80% है, जो की बेहद सराहनीय है।
  • यहां की सरकार अपनी जी.डी.पी का 2.15% हिस्सा एजुकेशन में खर्च करती है।

कंबोडिया के अनोखे पर्यटन स्थल

  • विराचे नेशनल पार्क
  • कंबोडिया का राष्ट्रीय संग्रहालय
  • ट्यूल स्लेंग युद्ध संग्रहालय
  • बांस द्वीप
  • लैंडमाइन म्यूजियम
  • बेयोन मंदिर
  • बोकोर हिल स्टेशन
  • सिल्वर पैगोडा
  • ता प्रोहम
  • नोम तमाओ वन्यजीव बचाव केंद्र
  • बट्टंबैंग बैट गुफाएं
  • रीम नेशनल पार्क
  • किलिंग फील्ड्स: द मैसिव ग्रेवयार्ड्स
  • बंटेय श्रेई
  • अंगकोर वाट मंदिर

नोम पेन्ह कंबोडिया की राजधानी कब बनी?

नोम पेन्ह कंबोडिया की राजधानी साल 1434 में बनी।

कंबोडिया की राजधानी में पर्यटन की दृष्टि से सबसे अच्छी जगह कौन सी है?

कंबोडिया की राजधानी नोम पेन्ह की पर्यटन की दृष्टि से ट्यूल स्लेंग युद्ध संग्रहालय सबसे अच्छी जगह है।

कंबोडिया का कौन सा हिंदू मंदिर सबसे अधिक प्रसिद्ध है?

कंबोडिया में अंगकोर वाट हिंदू मंदिर सबसे अधिक प्रसिद्ध है।

क्या कंबोडिया को कभी किसी और नाम से जाना जाता था?

कंबोडिया को पुराने समय एम कंबोज के नाम से भी जाना जाता था।

क्या कंबोडिया का वीजा लेना काफी कठिन काम है?

जी नहीं, कंबोडिया का वीजा लेना कोई बहुत कठिन काम नही है। आपको बस ऊपर बताए गए तीनों तरीको में किसी एक को फॉलो करके कंबोडिया का वीजा आसानी से पा सकते है।

निष्कर्ष

तो दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आपने कंबोडिया की राजधानी कहाँ है के बारे में जाना और साथ ही में कंबोडिया की बारे में अनोखी बाते, और वहां पर घूमने लायक स्थलों के बारे में जाना। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे, जिससे उन्हें भी कंबोडिया के बारे ने जानकारी हो सके।

Leave a Comment