गोवा की राजधानी कहाँ है?

गोवा की राजधानी का नाम और गोवा की राजधानी का क्या नाम है के बारेमे अधिक जानकारी प्राप्त करने केलिए अंत तक बने रहे।

आईये Goa Ki Rajdhani Kahan Hai के बारेमे कुछ जानते हैं। क्षेत्रफल के हिसाब से गोवा भारत का सबसे छोटा राज्य और आबादी के हिसाब से भारत का चौथा सबसे छोटा राज्य है। पूरी दुनिया में गोवा अपने खूबसूरत समुद्र के किनारों के लिए जाना जाता है। गोवा के साथ साथ गुजरात की राजधानी कहाँ है के बारेमे जानने केलिए इसे जरुर पढ़ें और इसके अलावा व्यापारिक दृष्टि के भी गोवा सदियों से भारत का एक अतिमहत्त्वपूर्ण बंदरगाह रहता आया है। इस लेख में हम जानेंगे आखिर गोवा की राजधानी कहां है?

अंग्रेजो का जब भारत पर राज था, तब गोवा ही एकमात्र ऐसा राज्य था जहां पुर्तगाल का शासन था।
गोवा को पुर्तगाल के शासन से आजादी भारत के आजाद होने के कई सालो बाद साल साल 1961 में मिली। आज हम भारत के इसी राज्य गोवा और गोवा की राजधानी कौन सी है के बारे में जानेंगे, इसलिए अंत तक ध्यानपूर्वक जरूर पढ़े।

गोवा की राजधानी क्या है?

गोवा की राजधानी Panaji (पणजी) है। पणजी गोवा राज्य की मंडोवी नदी के किनारे पर बसा हुआ है। चूंकि गोवा में लगभग 450 सालो तक पुर्तगाल का शासन था, तो यहां के हर गली, मुहल्ले में पुर्तगाली प्रभाव देखने को मिलता है।

Goa Ki Rajdhani Kahan Hai

साल 1961 में पुर्तगाली ने, गोवा में लंबे भारतीय संघर्ष के बाद छोर दिया था और पूरे गोवा को पूरे पुर्तगाली क्षेत्रों के साथ भारत में जोड़ लिया गया था। इसके बाद पणजी को 1987 में गोवा राज्य की राजधानी बन दिया गया। अगर आपको ऑस्ट्रेलिया की राजधानी और अमेरिका की राजधानी कहाँ है जानना है तो इसे पढ़े।

गोवा की राजधानी पणजी का इतिहास

Goa Ki Rajdhani में 18वीं शताब्दी के मध्य में कई विनाशकारी महामारियों ने गोवा राज्य के इस शहर की आबादी को लगभग नष्ट ही कर दिया था, तब पणजी को पुर्तगाल के शासन के समय भारत की राजधानी बना दिया गया था।

राज्य का गठन30 मई 1987
राजधानीपणजी (पंजिम)
सबसे बड़ा शहरवास्को डिगामा
ज़िला2
राज्यपालपी.एस. श्रीधरणी
मुख्यमंत्रीप्रमोद सावंत
कुल क्षेत्र की स्थिति3702km2 (1,429 वर्गमीटर)
कुल जनसंख्या (2011)1,458,545
साक्षरता88.70%

मार्च 2000 में ऑल्टो पोरवोरिम में मंडोवी नदी के किनारे एक नए विधान सभा परिसर का उद्घाटन किया गया, साथ ही साथ तत्काल समय में पणजी उत्तरी गोवा जिले की प्रशासनिक मुख्यालय भी है।

गोवा की राजधानी पणजी से जुड़े रोचक तथ्य।

  • गोवा की राजधानी पणजी में चर्च ऑफ अवर लेडी ऑफ द इमैकुलेट कॉन्सेप्शन, पहाड़ी पर स्थित है और आदिल शल द्वारा निर्मित इडल्को पैलेस के ठीक ऊपर चर्च की गैलरी में खड़े होकर, आप सुंदर पणजी शहर का पूरा दृश्य देख सकते हैं। यह पणजी शहर के केंद्र में स्थित पणजी का सबसे अच्छा आकर्षण है और यह गोवा का पहला चर्च है, जिसे 1541 में बनवाया गया था।
  • पणजी गोवा की एक ऐसी जगह है जहां मस्ती कभी नहीं रुकती। समुद्र तट के आनंद से लेकर नाइटलाइफ़ रोमांच तक सब कुछ प्रदान करते हुए, पणजी गोवा उत्साहपूर्ण जगह है। भारत की आंशिक राजधानी की मनोरंजन नब्ज को तेज करने वाले इसके कसीनो हैं।
  • पणजी के नगर निगम में एक मोहल्ला है, जो सस्ती खरीददारी के लिए प्रसिद्ध है। संकरी गलियां, चादर के ढकी हुई छतें और हर 2 कदम पर नए नए स्टॉल इस जगह को बहुत ही व्यस्त बना देते हैं।
  • गोवा की यात्रा में आप जब भी जाएं मारुति मंदिर की यात्रा जरूर करें। इस मंदिर के निर्माण के पीछे एक लंबी लेकिन दिलचस्प कहानी है। जिसके कारण मारुति मंदिर इतिहास के शौकीनों के लिए एक आदर्श स्थान है। जहां भगवान हनुमान या बंदर भगवान की पूजा की जाती है।

गोवा की राजधानी पणजी के अनोखे पर्यटन स्थल।

#1. द पणजी चर्च

यह चर्च पणजी शहर का सबसे प्राचीन और सबसे बड़ा चर्च है। इस चर्च को पुर्तगालियों के द्वारा साल 1541 में बनाया गया था। यह चर्च इतनी शानदार तरह से बना है की पूरे भारत भर से पर्यटक यहां अपनी वेडिंग फोटो शूट्स करवाने आते हैं। इसके अलावा बहुत सारी बॉलीवुड मूवीज की भी शूटिंग यहां करी गई है। जैसे की- दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे, आशिकी 2, मलंग और शिंबा जैसी मूवीज की शूटिंग यहां हुई है। जिस कारण से यह इस शहर का सर्वाधिक पर्यटकों द्वारा भ्रमण किया जाने वाला केंद्र बना हुआ है।

#2. फॉन्टेनस

इस जगह की सेंट सेबेस्टियन रोड पर जब आप भ्रमण करेंगे, तो यहां की छोटी छोटी रंग बिरंगी बिल्डिंग्स आपको किसी यूरोपियन कंट्री की याद दिलाएगी। इस जगह को भी यहां की खास तरह की बनावट की वजह से वेडिंग फोटो शूट और मॉडलिंग के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

#3. डोना पौला बीच

इस बीच पर आने के बाद आपको अरब सागर का पूरा दृश्य और यहां स्थित हिल के शिखर से आपको सूर्योदय और सूर्यास्त देखने में भी काफी आनंद आएगा। इसके साथ यहां पर पर्यटकों के लिए तरह तरह के वाटर स्पोर्ट्स का भी प्रबंधन किया गया है। इस जगह पर सिंघम मूवी की भी शूटिंग हुई है।

#4. मीरामार बीच

इस बीच पर आपको सबसे ज्यादा आनंद शाम के समय पर आने में आएगा क्योंकि उस समय यह बीच बहुत ही शांत और ठंडा हो जाता है। समुद्र के तट पर बैठने पर आपको ठंडी ठंडी हवाओं का स्मरण होगा, यहां पर बड़े बड़े पेड़ भी काफी अधिक संख्या में लगे हुए हैं।

#5. कसीनो लेन/ रीवर क्रूज

यहां आने पर पर्यटक या तो क्रूज में जा सकते है और साथ में कसीनो का भी आनंद ले सकते हैं। अगर आप गोवा गए और गोवा के समुद्र में चल रहे कसीनो का आनंद नही उठाया है, तो आपको एक बार कसीनो जरूर जाना चाहिए।

गोवा कौन सा रेलवे स्टेशन

Goa Which Railway Station: चूंकि रेल उद्यम के लिए रुचि बहुत अधिक है और अधिकांश ट्रेनें पूरी तरह से चलती हैं, इसलिए गोवा के आपके वास्तविक भ्रमण से पहले टिकटों को बचाना असाधारण रूप से उपयुक्त है। गोवा में दो प्रमुख रेलवे स्टेशन हैं, मडगांव और वास्को डी गामा, दोनों राज्य के दक्षिणी भाग में हैं। दक्षिण मध्य रेलवे का अंत वास्को डी गामा में है, और कोंकण रेलवे का अंत मडगांव में है।

पणजी गोवा की राजधानी कब बनी?

पणजी गोवा की राजधानी साल 1843 में बनी।

गोवा की राजधानी पणजी की खासियत क्या है?

गोवा की राजधानी पणजी की खासियत यह है कि यहां पर अभी भी गली, मुहल्लो में पुर्तगाली प्रभाव देखने को मिलता है।

गोवा के प्रसिद्ध समुद्री तटों के नाम क्या है, जिन्हे जरूर घूमना चाहिए?

गोवा के प्रसिद्ध तटों में कैंडोलिम, दोना सिल्विया, दोना पौला समुद्री तट है, जिन्हे जरूर घूमना चाहिए।

गोवा पुर्तगाली शासन से कब आजाद हुआ?

गोवा साल 1961 में पुर्तगाली शासन से आजाद हुआ।

निष्कर्ष

तो दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आपने गोवा की राजधानी कहाँ है और गोवा की राजधानी पणजी के बारे में जाना। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर करना बिलकुल भी ना भूले, जिससे उन्हें भी गोवा के बारे में जानकारी हो सके।

Leave a Comment