हरियाणा की राजधानी कहाँ है?

अगर आपको हरियाणा की राजधानी का नाम और हरयाणा की राजधानी कहा है के बारेमे अधिक जानकारी प्राप्त करना है तो इस article को अंत तक जरुर पढ़े।

यहाँ हम Haryana Ki Rajdhani Kahan Hai के बारेमे और हरियाणा एक अविश्वसनीय रूप से सुंदर राज्य है। जो भारत के उत्तर मध्य में मौजूद है। हरियाणा का सुमार दुनिया के उन जगहों में है जो अपने यहां आने वालों को बहुत कुछ देता है। यहाँ हम जानते है की दिल्ली की राजधानी कहाँ है और हरियाणा की धरती वीर जवानों की धरती है क्योंकि यहां पर अनेक शूरवीरों ने जन्म लिया है। हरियाणा की धरती को जाटों की धरती भी कहा जाता है।

हरियाणा वही धरती है जहां महाभारत का विशाल युद्ध हुआ था। जहां यह युद्ध हुआ था, उस जगह को कुरुक्षेत्र कहा जाता है। यह भी कहा जाता है कि महाभारत का विशाल युद्ध कुरुक्षेत्र पर धरती पर हुआ था, लेकिन वहां पर इस युद्ध में इतनी मृत्यु हुई थी की वहां मिट्टी का रंग भी लाल हो गया था और वहा अभी भी लाल है। आज हम इसी समृद्धिशील राज्य हरियाणा की राजधानी कौन सी है? इस बारे में बात करेंगे। इसलिए अंत तक जरूर बने रहे।

हरियाणा की राजधानी क्या है?

हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है। भारत के सबसे स्वच्छ, सुरक्षित और समृद्ध शहरो के एक चंडीगढ़ शहर हरियाणा की राजधानी है। यह शहर हरियाणा की राजधानी होने के साथ साथ भारत के 9 केंद्र शासित प्रदेशों में से भी एक है, 11 लाख की आबादी वाला ये शहर भारत के सबसे सुंदर शहरों में से भी एक है।

Haryana Ki Rajdhani Kahan Hai

चंडीगढ़ शहर की खास बात यह है कि यहां आपको किसी भी प्रकार की कमी महसूस नहीं होगी। अगर आप राजस्थान की राजधानी, झारखण्ड की राजधानी, और गोवा की राजधानी कहाँ है के बारेमे जानने केलिए इसे जरुर पढ़े।

देश23px Flag of India.svgभारत
राजधानीचंडीगढ़
संविधान1 नवंबर, 1966
सबसे बड़ा शहरफरीदाबाद
आबादी2,53,51,462
क्षेत्र44,212 or 17,070 mi²
आधिकारिक या राज्य भाषाहिंदी, [हरियाणवी] पंजाबी

हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ क्यों सबसे अलग शहर है?

Haryana Ki Rajdhani चंडीगढ़ हमेशा से एक केंद्र शासित प्रदेश नही था। साल 1947 में जब भारत विभाजन हुआ, तब पंजाब की पुरानी राजधानी लाहौर पाकिस्तान के हिस्से में चली गई और भारतीय हिस्से आए पंजाब की कोई राजधानी नही थी। इसलिए चंडीगढ़ को पंजाब की राजधनी बनाने का फैसला लिया गया।

उस समय तक चंडीगढ़ इतना बड़ा शहर नही था कि वो किसी राज्य की राजधानी बन पाए, तो उस समय शिमला को पंजाब की राजधानी बना दिया गया, उस समय तक हिमाचल प्रदेश पंजाब का एक हिस्सा हुआ करता था। चंडीगढ़ हमारे प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू जी के सपनों का शहर है।

इस शहर को बनाने में उनकी नीजि रुचि थी। इसलिए इस शहर को बनाने का काम अमेरिकी डिज़ाइनर अल्बर्ट मेयर को दिया गया। फिर जब साल 1960 में चंडीगढ़ बन कर तैयार हो गया तो इसे पंजाब की राजधानी बनाया गया। तब तक भी चंडीगढ़ एक केन्द्र शासित प्रदेश नही था। निचे टेबल से हरियाणा के बारेमे कुछ जानते है।

सरकारहरियाणा सरकार
गवर्नरपोर्ट दत्तात्रेय
मुख्यमंत्रीमनोहर लाल खट्टर (भाजपा)
विधान मंडलएक सदनीय, विधानसभा (90 सीटें)
भारतीय संसदराज्य सभा (5 सीटें) | लोकसभा (10 सीटें)

1 नवंबर साल 1966 में जब पंजाब का हिंदी भाषी क्षेत्र अलग हुआ, तब यहां बहस शुरू हो गई कि चंडीगढ़ किस राज्य की राजधानी होगा। इसलिए इसी बहस को खत्म करने के लिए चंडीगढ़ को पंजाब और हरियाणा दोनों की राजधानी बनाया गया और इसे एक केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया।

आज भी हरियाणा और पंजाब दोनो का ही हाई कोर्ट चंडीगढ़ में ही है। चंडीगढ़ हमेशा से ही प्राचीन सभ्यताओं का घर रहा है। यहां पर आज से 5000 साल पहले हड़प्पा संस्कृति के लोग रहते थे, जिनके अवशेष आज भी देखे जा सकते हैं। हड़प्पा संस्कृति दुनिया की सबसे प्राचीन संस्कृतियों में से एक है।

हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।

  • चंडीगढ़ में प्रति व्यक्ति आय 1 लाख रुपए से भी ज्यादा है।
  • चंडीगढ़ के नजदीकी शहर मोहाली और पंचकुला है।
  • चंडीगढ़ में रहने वाले लोग भारत के अन्य राज्यों में रहने वाले लोगों के मुकाबले ज्यादा खुशहाल जीवन व्यतीत करते हैं। इस सर्वे को एल.जी इलेक्ट्रॉनिक्स के द्वारा साल 2015 में किया गया था। इसके बाद से ही चंडीगढ़ को 2016 से हैप्पीस्ट सिटी का नाम भी दिया गया है।
  • चंडीगढ़ का सिंबल ओपन हैंड है, यह सिंबल शांति समृद्धि और मानवता की एकता का प्रतीक है।
  • सेक्टर 17 चंडीगढ़ का मुख्य कमर्शियल सेक्टर है। इस सेक्टर में बड़े बड़े कपड़ों के शोरूम, खाने पीने की जगह, बड़े बड़े मॉल बने हुए है। पब्स और डिस्को क्लब की भी यहां कोई कमी नही है। अन्य भी सभी तरह की जरूरतों की सारी चीज यहां पर आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं।
  • अधिकांश चंडीगढ़ बरगद और यूसिलेक्टस के पेड़ों से भरा पड़ा है, जो इस शहर की शोभा में चार चांद लगाते हैं।
  • आज से 20 साल पहले चंडीगढ़ भारत की नंबर वन सिटी मानी जाती थी।
  • यहां का ह्यूमन डेवलपमेंट पूरे भारत में केरल के बाद दूसरे नंबर पर आता है।
  • आज से 5000 साल पहले यहां पर हड़प्पा सभ्यता के लोग रहते थे।
  • चंडीगढ़ भारत के सबसे साफ सुथरे शहर में गिना जाता है, यहां पर आपको 2000 से भी ज्यादा प्रजाति के पेड़ पौधे देखने को मिलेंगे। इसी के चलते यहां की हवा बेहद ही साफ है।
  • चंडीगढ़ का एजुकेशन सिस्टम भी भारत के बेहतरीन एजुकेशन सिस्टम्स में से एक माना जाता है।
  • चंडीगढ़ हरियाणा की राजधानी होने से साथ साथ पंजाब राज्य की भी राजधानी है।

चंडीगढ़ में घूमने के 25 मुख्य पर्यटन स्थल।

निचे दिए गये तथ्य से हमें ये पता चलेगा की चंडीगढ़ का सबसे मुख्य पर्यटन स्थल, जहा की हम घूमने के साथ साथ इसके आनंद भी ले सकते है।

  • ज़ाकिर हुसैन रोज़ गार्डन
  • सुखना झील
  • रॉक गार्डन
  • मोहाली क्रिकेट स्टेडियम
  • टैरेस्ड गार्डन
  • इस्कॉन मंदिर
  • पिंजौर गार्डन
  • लीजर वैली
  • सेक्टर 17 मार्केट
  • हॉप्स एन ग्रेन्स
  • सरकारी संग्रहालय और कला दीर्घा
  • शांति कुंज
  • खुशबू का बगीचा
  • पोर्ट्रेट्स की राष्ट्रीय गैलरी
  • ले कॉर्बूसियर केंद्र
  • जापानी उद्यान
  • अंतर्राष्ट्रीय गुड़िया संग्रहालय
  • बटरफ्लाई पार्क
  • गार्डन ऑफ़ साइलेंस
  • गांधी संग्रहालय
  • फन सिटी
  • थंडर जोन
  • बॉटनिकल गार्डन
  • बोगनविलिया गार्डन
  • हिबिस्कस गार्डन

चंडीगढ़ हरियाणा की राजधानी कब बनी?

चंडीगढ़ हरियाणा की राजधानी साल 1953 में बनी।

चंडीगढ़ किन राज्यो की राजधानी है?

हरियाणा और पंजाब।

चंडीगढ़ को सबसे खास बात क्या है?

यहां की हवा देश की सबसे अच्छी हवा वाली जगहों में से एक है। इसके अलावा यह शहर अपनी स्वच्छता और सुरक्षा के लिए जाना जाता है।

चंडीगढ़ में पर्यटन के लिए सबसे अच्छी जगह कौन सी है?

रोज गार्डन।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आपने हरियाणा की राजधानी कहाँ है के बारे में जाना। यदि आपको यह अटका पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें।

Leave a Comment