झारखण्ड की राजधानी कहाँ है?

अगर आपको झारखण्ड की राजधानी कहाँ पर है और झारखण्ड की राजधानी कौन है के बारेमे अधिक जानकारी प्राप्त करना है तो इस लेख को अंत तक जरुर पढ़े।

आज हम इस लेख में जानेंगे की Jharkhand Ki Rajdhani Kahan Hai, झारखंड राज्य का नाम दो शब्दों से मिल कर बना है, झार (वन) और खंड (भूमि), इसीलिए झारखण्ड राज्य को वनों वाली भूमि भी कहा जाता है। इसे साल 2000 में दक्षिण बिहार से अलग कर के बनाया गया था। यह राज्य उत्तर में बिहार, पश्चिम में छत्तीसगढ़, दक्षिण में ओड़िशा और पूर्व में पश्चिम बंगाल राज्य से घिरा हुआ है।

प्रकृति के दीवानों के लिए यह राज्य किस अजूबे से कम नही है। इसी के साथ यह को राजधानी सच में एक अजूबा ही है। तो आज इस आर्टिकल की मदद से हम झारखण्ड की राजधानी कौन सी है इसके बारे में बताएंगे लेकिन साथ ही साथ इससे आगे बढ़ कर झारखंड की राजधानी से जुड़ी कुछ अन्य महत्त्वपूर्ण बाते भी बताएंगे, इसलिए अंत तक ध्यानपूर्वक जरूर पढ़े।

झारखण्ड की राजधानी क्या है?

झारखण्ड की राजधानी रांची है। झारखंड की राजधानी भारत के बीच में पड़ने वाली एक खूबसूरत शहर जो पहाड़ों और वादियों से गिरा हुआ है, रांची शहर है। यह झारखंड का सबसे बड़ा शहर भी है।

Jharkhand Ki Rajdhani Kahan Hai

रांची शहर झारखंड राज्य के बीचोबीच बसा हुआ है। झारखंड और बिहार के बीच विभाजन से पहले बिहार राज्य की गर्मियों की राजधानी अपने ठंडे वातावरण के कारण यही शहर हुआ करता था। अगर आपको ऑस्ट्रेलिया की राजधानी और अमेरिका की राजधानी कहाँ है जानना है तो इसे पढ़े।

ये भी पढ़े:-

१. कंबोडिया की राजधानी कहाँ है?
२. असम की राजधानी कहाँ है?
३. राजस्थान की राजधानी कहाँ है?

झारखंड की राजधानी रांची की उत्पत्ति

Jharkhand Ki Rajdhani: सन 1756 ई. से सन 1834 ई. तक झारखंड क्षेत्र नागपुर या छोटा नागपुर के नाम से जाना जाता था। साल 1833 ई. में साउथ वेस्ट फ्रंटियर एजेंसी की स्थापना के पश्चात एजेंसी का मुख्यालय विलकिंसनगंज या किसनपुर के नाम से जाना जाने लगा और बाद में इसी को रांची के नाम से जाना जाने लगा और आज तक रांची के नाम से ही जाना जाता है।

झारखंड की राजधानी रांची से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

झारखंड की राजधानी का नाम या रांची ने पिछले कुछ वर्षो में बहुत उतार चढ़ाव देखे हैं, मगर विकास की रफ्तार ने रांची शहर की तस्वीर ही बदल दी है। रांची शहर आज मॉडर्न शहर के रूप में पूरी तरह बदल गया है, इतना जरूर है की यहां की ऐतिहासिक धरोहरों को आज भी संजो कर रखा गया है। आइए रांची शहर के कुछ रोचक पहलुओं पर नजर डालते है।

  • रांची शहर झारखंड राज्य का तीसरा सबसे बड़ा शहर भी है।
  • मशहूर क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी का होम टाउन होने की वजह से यह शहर पूरे देश में मशहूर है।
  • रांची शहर झारखंड के एक महानगरीय शहर के रूप में जाना जाता है, और झारखंड के दक्षिण छोटा नागपुर रीजन का हैडक्वाटर भी यही रांची में ही मौजूद है।
  • रांची शहर आज के मौजूदा समय में पूर्वी भारत के कोलकाता, पटना और जमशेदपुर के बाद चौथा सबसे बड़ा शहर कहलाता है।
  • रांची को जल प्रपातो का शहर यानी झरने का शहर भी कहा जाता है।
  • रांची पहले बिहार राज्य का हिस्सा हुआ करता था। लेकिन 15 नवंबर साल 2000 में बिहार और झारखंड का बटवारा हो गया। रांची झारखंड का हिस्सा तो बना ही साथ में यह शहर झारखंड की राजधानी भी बन गया।
  • भारत के सबसे उच्च प्रबंध संस्थान, भारतीय प्रबंध संस्थानों में एक संस्थान यहां भी है, जिसे आईआईएम रांची के नाम से जाना जाता है।

झारखंड की राजधानी रांची के प्रमुख पर्यटन स्थल

रांची को पर्यटन की दृष्टि से भारत के महत्त्वपूर्ण स्थलों में से एक माना जाता है। इस शहर की खूबसूरती में चार चांद लगाने में यहां के झरने और पहाड़ों का प्रमुख योगदान है।

#1. टैगोर हिल

इस पहाड़ से आप पूरे रांची शहर की सुंदरता को देख सकते हैं। पर्यटकों को सबसे ज्यादा प्रसन्नता यहां से सूर्योदय और सूर्यास्त को देखने में मिलती है।

#2. श्री जगन्नाथ मंदि

श्री जगन्नाथ मंदिर पहाड़ की चोटी पर बना एक खूबसूरत मंदिर है। इस मंदिर का निर्माण सत्रहवी शताब्दी में हुआ था। यहां से आप क्रिकेट स्टेडियम को भी आराम से देख सकते हैं।

#3. धुर्वा डैम

यह डैम रांची शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। बहुत बड़ी खुली जगह होने की वजह से शाम के समय यहां बहुत अधिक संख्या में पर्यटक आते हैं।

#4. रॉक गार्डन

रॉक गार्डन रांची शहर के साथ साथ बाहर से आए पर्यटकों में सबसे ज्यादा देखे जाने वाला स्थान माना जाता है। यह एक पिकनिक स्पॉट के तौर पर भी बहुत प्रचलित है।

#5. कांके डैम

यह डैम रांची रेलवे स्टेशन से 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और यह रॉक गार्डन के नजदीक में ही पड़ता है, इसलिए यहां भी हर समय पर्यटकों का मेला लगा रहता है।

#6. पहाड़ी मंदिर

यह मंदिर शहर के बीचों बीच में पहाड़ की चोटी पर स्थित है और पूरा मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर की चोटी पर चले जाने के बाद आप पूरे शहर का खूबसूरत नजारा देख सकते हैं।

#7. बायोडायवर्सिटी पार्क

यह पार्क शहर से 20 किलोमीटर की दूरी पर रांची खुट्टी मार्ग पर स्थित है। यह पूर्वी भारत का इकलौता बायोडायवर्सिटी पार्क है और यह 542 हैक्टेयर में फैला हुआ है। इसे घूमने के लिए पूरा दिन भी लग जाएं तब भी इसे पूरा घूम पाना मुश्किल है।

#8. ऑक्सीजन पार्क

यह पार्क रांची यूनिवर्सिटी के पास स्थित है। इसे अमर शहीद नीलांबर पार्क भी कहा जाता है।

#9. मछली घर

यह मछली घर पूरे भारत का सबसे बड़ा मछली घर है और रांची के सबसे महत्त्वपूर्ण पर्यटन स्थलों में से एक है।

रांची झारखंड की राजधानी कब बनी?

रांची झारखंड की राजधानी साल २००० में बनी।

क्या रांची कभी किसी और राज्य की राजधानी भी रह चुकी है?

जी हां, बिहार और झारखंड के विभाजन से पहले रांची बिहार राज्य की गर्मियों की राजधानी हुआ करती थी।

झारखंड की राजधानी रांची का क्या कभी कोई और नाम भी था?

जी हां, रांची को किसनपुर के नाम से भी जाना जाता था।

रांची की सबसे प्रसिद्ध जगह कौन सी है?

रांची की सबसे ज्यादा प्रसिद्ध जगह टैगोर हिल्स है।

निष्कर्ष

तो दोस्तो आज आपने जाना झारखण्ड की राजधानी कहाँ है, उसके रोचक तत्वों और पर्यटन स्थलों के भी बारे में। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर जरूर करे, जिससे वे भी यहां के बारे में जान सके।

Leave a Comment