महाराष्ट्र की राजधानी कहाँ है?

आज हम ये जानेंगे की महाराष्ट्र की राजधानी का नाम क्या है? अगर आपको इसके बारेमे पता नही है तो यह लेख को अंत तक पढने के बाद आपको पता चल जायेगा की महाराष्ट्र की राजधानी कौनसी है?

आईये Maharashtra Ki Rajdhani Kahan Hai के बारेमे कुछ जानकारी हासिल करते हैं। महाराष्ट्र राज्य की स्थापना 1 मई सन् 1960 में हुई, यह भारत के दक्षिण में स्थित एक राज्य है। महाराष्ट्र राज्य के गिनती भारत के सबसे धनी राज्यों में की जाती है। आबादी के लिहाज से महाराष्ट्र देश का दूसरा सबसे बड़ा राज्य है और क्षेत्रफल के हिसाब से तीसरा सबसे बड़ा राज्य है। इस पोस्ट में हम महाराष्ट्र की राजधानी कहां है? जानेंगे।

भारत की राजधानी कहाँ है और भारत देश को सबसे ज्यादा जी.डी.पी महाराष्ट्र ही देता है। महाराष्ट्र नाम का अर्थ महा मतलब महान और राष्ट्र जिसका मतलब देश से हुआ है। संपूर्ण भारत में प्रसिद्ध छत्रपति शिवाजी टर्मिनल जुहू बीच अजंता और एलोरा की गुफाएं यही महाराष्ट्र राज्य में भी पाई जाती है।

इस राज्य की खास बात यह है कि यह राज्य देश के सबसे व्यस्ततम राज्यों में गिना जाता है। यहां गर्मियों में हर साल पानी की बहुत ज्यादा किल्लत होती है लेकिन इसके साथ ही बारिश के मौसम में बरसात भी काफी होती है। इसीलिए आज के इस आर्टिकल में हम बात करेंगे महाराष्ट्र और महाराष्ट्र की राजधानी कौन सी है के बारे में इसलिए अंत तक जरूर बने रहे।

महाराष्ट्र की राजधानी क्या है?

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है। दुनिया भर में माया नगरी के नाम से मशहूर मुंबई शहर महाराष्ट्र की राजधानी है। मुंबई शहर को बॉम्बे, बंबई, सपनो का शहर, हादसों का शहर आदि नामों से जाना जाता है। यह शहर भारत के सबसे बड़े और व्यस्ततम शहरों में से एक है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कहां जाता है कि यह शहर एक मिनट के लिए भी नहीं सोता है।

Maharashtra Ki Rajdhani Kahan Hai

जिस तरह भारत की राजधानी नई दिल्ली है, उसी तरह महाराष्ट्र की राजधानी भी मुंबई ही है। सिर्फ हम महाराष्ट्र की राजधानी के बारेमे क्यूँ, चलिए हम यहाँ झारखण्ड की राजधानी और राजस्थान की राजधानी कहाँ है के बारेमे कुछ जानकारी हासिल करते हैं।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई का इतिहास

Maharashtra Ki Rajdhani: यह शहर कोई नया बना हुआ शहर नही है, इसकी सभ्यता बहुत पुरानी है। दूसरी सदी में भी इसके होने के प्रमाण मिलते हैं। 1534 तक मुगलों का कब्जा पूरे भारत में था और हुमायूं के बढ़ते कद के कारण गुजरात के सुल्तान बहादुर शाह को डर लगा और वे मुगलों को दूर रखने के उपाय खोजने लगा। निचे टेबल से महाराष्ट्र के बारेमे कुछ जानते है।

देश23px Flag of India.svgभारत
गठन1 मई 1960
राजधानियोंमुंबई | नागपुर (शीतकालीन)
सबसे बड़ा शहरमुंबई
जिले६०

डर के कारण बहादुर शाह ने पुर्तगालियों के साथ एक संधि की। यह संधि बेसिन की संधि थी, जो की दिसंबर 1534 में हुई थी। जिसका मतलब था की बंबई के 7 द्वीप जो वसई शहर के करीब थे, वे अब पुर्तगालियों के अंतर्गत आ जायेंगे और यहीं से मुंबई बनने की शुरुआत हो गई थी।

डर के कारण बहादुर शाह ने पुर्तगालियों के साथ एक संधि की। यह संधि बेसिन की संधि थी, जो की दिसंबर 1534 में हुई थी। जिसका मतलब था की बंबई के 7 द्वीप जो वसई शहर के करीब थे, वे अब पुर्तगालियों के अंतर्गत आ जायेंगे और यहीं से मुंबई बनने की शुरुआत हो गई थी।

तब तक यह एक शहर नही बना था बल्कि कई द्वीपों का समूह था। पुर्तगाली इस शहर में एक ट्रेडिंग सेंटर बनाना चाहते थे। पुर्तगाली इस जगह को बोमबाहिया कहते थे, जिसका मतलब एक अच्छी खाड़ी था।

साल 1626 तक यानी की 100 सालों के अंदर ही यह द्वीपों का एक बड़ा समूह बन चुका था। जहां से कई चीजों का आयात निर्यात किया जाता था और यह तभी सबसे समृद्ध शहर के रूप में उभरने लगा था।

1626 में पहली बार अंग्रेजो ने बोमबाहिया की तरफ रुख किया था और उन्होंने ही इसका नाम बंबई रखा। धीरे धीरे यह बंबई नाम का शहर की महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई की नाम से जाना जाने लगा।

सरकारमहाराष्ट्र सरकार
राज्यपालभगत सिंह कोश्यारी
मुख्यमंत्रीएकनाथ शिंदे
उपमुख्यमंत्रीदेवेंद्र फडणवीस

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  • लोगों का कहना हैककी मुंबई नाम इस शहर को इसलिए मिला है क्योंकि मुंबई के मूल निवासी यहां के मुंबा देवी की पूजा करते है और उन्ही के नाम पर इस शहर को यह नाम मिला।
  • मुंबई के धारावी में एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती है। आप इन झुग्गी बस्तियों की तस्वीरों को एशिया की सबसे बड़ी फिल्म स्लम डॉग मिलेनियर में देख सकते है। इस फिल्म ने कई सारे बड़े बड़े अवार्ड्स जीते थे।
  • ब्रिटिश राज का मुख्यालय होने के नाते मुंबई भारत के अन्य राज्यों से पहले विकसित हुआ है। भारत का सबसे पहला 5 सितारा होटल सबसे पहले मुंबई में वर्ष 1903 में खुला था और भारत का पहला एयरपोर्ट जुहू एयरो ड्रोन था जोकि 1928 में खुला। वही यहां पर बना क्षत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा दुनिया का तीसरा सबसे अच्छा हवाई अड्डा है।
  • मुंबई शहर की जान है, डब्बा वाला। यह मुंबई के दफ्तरों में डिब्बे में लंच देने वाला डिलेवरी सिस्टम है। यह एक बहुत ही विशाल नेटवर्क है, जो बहुत ही अच्छे तरीके से बना हुआ है। इस सिस्टम के द्वारा कभी भी कोई गलती नही हुई, फोर्ब्स मैगजीन द्वारा इसे दुनिया की सबसे अच्छा सप्लाई चेन घोषित किया गया है।
  • भारत में कार रखने वाले सबसे पहले व्यक्ति टाटा साम्राज्य क और महान व्यक्ततित्व के मालिक सर जमशेद जी टाटा थे। सन 1998 में उन्होंने इस शहर में कार खरीदी और भारत में कार खरीदने वाले पहले व्यक्ति बने।
  • भारत में सबसे पहली ट्रेन सन 1953 में मुंबई में ही चली थी। शायद इसीलिए आज भी मुंबई, ट्रेन के मामले में किसी भी दूसरे शहर से बहुत आगे है। भारत का पहला रेलवे स्टेशन भी मुंबई में बना जिसका नाम क्षत्रपति शिवाजी टर्मिनल था।
  • भारती फिल्म इंडस्ट्री का सबसे बड़ा हब भी मुंबई ही है, जिसे बॉलीवुड कहते है। बॉलीवुड शब्द बॉम्बे और हॉलीवुड से मिल कर बना है।
  • कहा जाता है की आप यहां पर अपना पेट पूरे दिन के लिए मात्र 10 रुपए से भी भर सकते हैं आपको बस दिन में एक बार यहां का वड़ा पाव खा लेना है।
  • भारत का सबसे महंगा घर भी आपको मुंबई में ही दिखेगा। जोकि मुकेश अम्बानी का 27 फ्लोर का बंगला है। इस बंगले का नाम एंटीलिया है और इसकी कीमत 1 बिलियन डॉलर है

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में घूमने के प्रमुख स्थल

महाराष्ट्र घूमने के प्रमुख स्थल और महाराष्ट्र की राजधानी कौन थी के बारेमे जानकारी प्राप्त करने केलिए निचे दिए गये तथ्य को ध्यान से पढ़ें।

  • गेटवे ऑफ इंडिया
  • संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान
  • रेड कार्पेट वैक्स म्यूजियम
  • हाजी अली दरगाह
  • एलीफेंटा गुफाएं

चलिए यहाँ हम निचे टेबल से महाराष्ट्र के बारेमे कुछ अधिक जानकारी हासिल करते है।

क्षेत्र307,713 km2
जनसंख्या (2011)112,374,333
भाषामराठी
साक्षरता (2017)84.8%
लिंगानुपात (2011)929 /1000 

मुंबई महाराष्ट्र की राजधानी कब बनी?

मुंबई महाराष्ट्र की राजधानी साल 1960 में बनी।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई को और किस नाम से जाना जाता है?

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई को माया नगरी के नाम से जाना जाता है। मुंबई को माया नगरी के अलावा सपनों का शहर और हादसों का शहर भी कहा जाता है।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई की खासियत क्या है?

महाराज की राजधानी मुंबई की खासियत यह है कि कहा जाता है कि यह शहर 1 मिनट के लिए भी नहीं सोता है।

महाराज की राजधानी मुंबई में पर्यटन के लिए सबसे सबसे अच्छी जगह कौन सी है?

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पर्यटन की दृष्टि से सबसे अच्छी जगह एलिफेंटा की गुफाएं हैं।

निष्कर्ष

तू दोस्तों आज के इस आर्टिकल में आपने महाराष्ट्र की राजधानी कहाँ है के बारे में विस्तार से जाना। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें जिससे उन्हें भी मुंबई के बारे में जानकारी हो सके।

Leave a Comment