एम.बी.ए के बाद क्या करें?

MBA के बाद क्या करे सोचा रहेग है? अगर अपने व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर कर चुके है तो आप निम्नलिखित कोर्स कर सकते है।

आज शिक्षा के क्षेत्र में बेहद अधिक कंपटीशन बढ़ गया है। हर कोई एक दूसरे से आगे निकलने के लिए तरह-तरह के उपाय और जी तोड़ मेहनत कर रहा है। लोग अपने कैरियर में आड़े बढ़ाने के लिए अपनी पसंद के हिसाब से अलग-अलग प्रकार के टेक्निकल और नॉनटेक्निकल कोर्स करते हैं।

कई लोग ऐसे होते हैं जो 12वीं कक्षा को पास करने के बाद BBA और उसके बाद MBA का कोर्स करते हैं। इसके बाद किसी प्राइवेट नौकरी में या फिर बिजनेस में हाथ आजमाते हैं। हालांकि कई लोग ऐसे भी होते हैं,जो एमबीए का कोर्स करने के बाद यह सोचते हैं कि MBA के बाद क्या करे? अगर आप भी उनमें से एक है तो इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि MBA के बाद क्या करें?

MBA क्या है?

MBA का संक्षिप्त नाम Master of Business Administration है। इस कोर्स करने के लिए सबसे पहले विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा को पास करना पड़ता है, उसके बाद उन्हें 12वीं कक्षा को पास करने के बाद भी BBA यानी की बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के कोर्स में एडमिशन लेना पड़ता है, जो कि 3 साल का होता है।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में ही हायर एजुकेशन प्राप्त करने के लिए विद्यार्थी एमबीए ‌यानी की मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन का कोर्स करते हैं,जो कि 2 साल का पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स होता है।

MBA ke baad kya kare

एमबीए के कोर्स में विद्यार्थियों को फाइनेंस मैनेजमेंट के बारे में बहुत ही अच्छी जानकारी प्रदान की जाती है, ताकि वह फाइनेंस की फील्ड में विशेषज्ञ बन सके।

एमबीए के कोर्स में एडमिशन लेने के बाद विद्यार्थियों को पहले साल में मैनेजमेंट के बेसिक सब्जेक्ट के बारे में बताया जाता है, उसके बाद उन्हें मैनेजमेंट के एडवांससब्जेक्ट की पढ़ाई करवाई जाती है। यहाँ से PG के बाद क्या करना चाहिए जरुर पढ़ें।

MBA के बाद कोनसा कोर्स करे?

जैसे ही विद्यार्थियों के एमबीए का कोर्स कंप्लीट होता है, वैसे ही उनके मन में यह सवाल गूंजने लगता है कि एमबीए के बाद क्या करें अथवा एमबीए के बाद कौन सा कोर्स करें? अगर आप भी इसी दुविधा में फंसे हैं तो अब आपकी टेंशन दूर होने वाली है क्योंकि आप जानेंगे कि एमबीए के बाद क्या करें? कौन से Career ऑप्शन आपके सामने मौजूद है।

#1. पिएचडी (PHD)

जी हां एमबीए के कोर्स को पूरा करने के बाद आप चाहे तो पीएचडी का कोर्स कर सकते हैं।पीएचडी का कोर्स करने के लिए आपको एमबीए के कोर्स को पूरा करने के बाद पीएचडी के कोर्स के लिए अप्लाई करना होगा। पीएचडी आप अपनी पसंद के सब्जेक्ट में कर सकते हैं।

पीएचडी का कोर्स जब आप कर लेते हैं तो आप उस सब्जेक्ट के मास्टर बन जाते हैं और आपको उस सब्जेक्ट की पूरी इंफॉर्मेशन होती है, जिस विषय में आपने अपनी पीएचडी की डिग्री हासिल की होती है। पीएचडी की डिग्री प्राप्त करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि जब आप इस डिग्री को पूरा कर लेते हैं, तो उसके बाद आप गवर्नमेंट या फिर प्राइवेट कॉलेज में प्रोफेसर की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं,जिसमें आपको बहुत ही अच्छी सैलरी प्राप्त होती है।

#2. गवर्नमेंट नौकरी के लिए अप्लाई करें

मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन का कोर्स कंप्लीट करने के बाद अगर आपकी इच्छा आगे पढ़ाई करने की नहीं है या फिर आप आगे नहीं पढ़ना चाहते हैं, तो आप चाहे तो इंडिया में निकलने वाली अलग-अलग प्रकार की गवर्नमेंट वैकेंसी में अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

और गवर्नमेंट जॉब पाने की कोशिश कर सकते हैं।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इंडिया में निकलने वाली लगभग तमाम प्रकार की गवर्नमेंट जॉब के लिए आप मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के कोर्स को पूरा करने के बाद योग्य हो जाते हैं और यही इस कोर्स का सबसे बड़ा फायदा भी माना जाता है।

एमबीए को पूरा करने के बाद आप गवर्नमेंट जॉब के अंतर्गत इंडियन पुलिस सर्विस, इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस, इंडियन फॉरेन सर्विस, सरकारी बैंक में नौकरी, गेल, भेल, इंडियन ऑयल, ओएनजीसी, एनटीपीसी इत्यादि में नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

#3. बैंक में नौकरी के लिए अप्लाई करें

एमबीए के कोर्स को पूरा करने के बाद अगर आपको तुरंत नौकरी करनी है तो आप प्राइवेट बैंक में रिलेशनशिप मैनेजर या फिर मार्केटिंग मैनेजर की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अगर आपको अच्छा अनुभव फाइनेंस की फील्ड में है, तो आप बैंक के मैनेजर की पोस्ट के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

इसके अलावा भी ऐसी कई नौकरियां हैं, जिनमें अप्लाई करने के लिए एमबीए की डिग्री काफी होती है। इस प्रकार एमबीए का कोर्स को करने के बाद आप तुरंत नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

#4. खुद का बिजनेसस्टार्ट करें

अगर आपने एमबीए का कोर्स कर लिया है तो यह जाहिर सी बात है कि आपको बिजनेस की फील्ड से रिलेटेड काफी अच्छी इंफॉर्मेशन प्राप्त हो गई होगी। इस प्रकार आप अपने द्वारा अर्जित ज्ञान का इस्तेमाल अपने बिजनेस को स्टार्ट करने में और उसे तरक्की की राह पर आगे ले जाने के लिए कर सकते हैं।

एमबीए में बिजनेस के बारे में ही बातें पढ़ाई तथा सिखाई जाती हैं। ऐसे में आपने एमबीए के कोर्स के दरमिया जो भी बातें पढ़ी या फिर सीखी है,आप उसे अपने बिजनेस में आजमा कर सकते हैं, ताकि आपका बिजनेस आगे बढ़ सके और आप एक सक्सेसफुल बिजनेसमैन बन सके।

#5. PGDCA

एमबीए कोर्स करने के बाद अगर आप कंप्यूटर की फील्ड से संबंधित स्टडी करना चाहते हैं, तो आप पीजीडीसीए यानी की पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन का कोर्स कर सकते हैं, जो कि टोटल 1 साल का कोर्स होता है और इस कोर्स में आपको 2 सेमेस्टर की पढ़ाई करवाई जाती है।

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स के पहले सेमेस्टर में आपको DBMS और कंप्यूटर लैंग्वेज तथा कंप्यूटर से संबंधित अन्य पढ़ाई करवाई जाती है और पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन के दूसरे सेमेस्टर में आपको प्रोजेक्ट दिया जाता है।

अगर आप पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन का कोर्स कर लेते हैं, तो आप मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स के दूसरे साल में एडमिशन ले सकते हैं। इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप कंप्यूटर के फील्ड में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अगर आप सोच रहें हे की बीएससी के बाद क्या करें तो ये लेख आपके लिए बेहत फायदेमंद होगा।

MBA का पूरा नाम क्या है?

एमबीए को मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन कहा जाता है।

एमबीए कितने साल का कोर्स होता है?

मास्टर आफबिजनेसएडमिनिस्ट्रेशन का कोर्स टोटल 2 साल का कोर्स होता है।

एमबीए के कोर्स में क्या पढ़ाया जाता है?

एमबीए के कोर्स मेबिजनेस के बारे में विद्यार्थियों को पढ़ाया जाता है।

एमबीए के कोर्स को करने के बाद क्या कर सकते हैं?

एमबीए के कोर्स को कंप्लीट करने के बाद आप तुरंत नौकरी कर सकते हैं या गवर्नमेंट नौकरी पाने के लिए अप्लाई कर सकते हैं या खुद का बिजनेसस्टार्ट कर सकते हैं।

निष्कर्ष

तो साथियों हमें पूर्ण आशा है MBA के बाद क्या करे समझ गए होंगे। अब आपको अपने कैरियर में सही सब्जेक्ट का चुनाव करने में आसानी होगी। अगर आप इस लेख में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं और इस जानकारिसे आपको बेहत फ़ायदा होने वाला हे तो इसे शेएर करने के साथ साथ एक प्यारा सा कमेंट देना ना भूलें।

Leave a Comment