सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस SP कैसे बने?

क्या आप जानना चाहते है की एसपी कैसे बने या फिर एसपी कैसे बनता है तो इस लेख को पढने के बाद आपका सारे प्रश्न दूर हो जायेगा।

इस लेख हम जानेंगे की SP कैसे बने? इंडिया में अधिकतर विद्यार्थी बचपन से ही यही सपना देखते हैं कि, वह अच्छी पढ़ाई लिखाई करें और अच्छी पढ़ाई लिखाई करके गवर्नमेंट नौकरी में शामिल हो, क्योंकि प्राइवेट नौकरी की तुलना में गवर्नमेंट नौकरी में जॉब की सिक्योरिटी होती है।

यानी कि अगर आप सही ढंग से अपनी नौकरी करते हैं, तो आप काफी लंबे समय तक गवर्नमेंट नौकरी कर सकते हैं, वहीं प्राइवेट नौकरी में आपको कभी भी नौकरी से निकाला जा सकता है और अगर आपको ACP पुलिस ऑफिसर कैसे बने की जानकारी चाहिए तो इसे पढ़ें।

पुलिस विभाग की नौकरियां भी सरकारी पदों के अंतर्गत आती है, हमारे देश में कई विद्यार्थी बचपन से ही SP बनकर देश की सेवा करने का ख्वाब देखते है। आज हम आपको इस पोस्ट में एसपी कैसे बन सकते हैं की पूर्ण जानकारी दे रहे है।

पुलिस SP कैसे बने?

इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट में एसपी की पोस्ट एक ऊंची पोस्ट मानी जाती है, साथ ही यह काफी जिम्मेदारी वाली पोस्ट होती है। इसलिए एसपी की पोस्ट पर ऐसे ही लोगों का चयन होता है, जो इस पोस्ट को संभालने की काबिलियत रखते हैं और जो जिम्मेदारी उठाने की हिम्मत रखते हैं।

SP Kaise Bane

अगर आप एसपी बनना चाहते हैं,तो आपको यह पता होना चाहिए कि एसपी कैसे बने? और एसपी बनने के लिए क्या करें? चलिए आपको बताते हैं कि एसपी बनने की प्रोसेस क्या है और SP बनने के लिए आपके अंदर कौन सी योग्यताएं होनी चाहिए।

आप यह भी पढ़ सकते है :-

SP क्या होता है?

SP यानी की सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस, पुलिस डिपार्टमेंट का एक बहुत ही ऊंचा पद माना जाता है। एसपी पुलिस का फुल फॉर्म और एसपी को हिंदी में पुलिस अधीक्षक कहा जाता है। जो अभ्यर्थी एसपी का पद प्राप्त करना चाहता है, उसे इसके लिए आईपीएस की एग्जाम को पास करना पड़ता है और आवश्यक प्रक्रिया को पूरी करने के बाद ही उसे एसपी की पोस्ट प्राप्त होती है।

SERVICE OVERVIEW

Formerly known asImperial Police Service
AbbreviationIPS
Date of Establishment1905; 117 years ago (as Imperial Police)
1948; 74 years ago (as Indian Police Service)
CountryIndia
Staff CollegeSardar Vallabhbhai Patel National Police Academy,
Hyderabad
Cadre Controlling AuthorityMinistry of Home Affairs, Government of India
Minister ResponsibleAmit Shah, Union Cabinet Minister for Home Affairs.
Legal personalityGovernmental: Civil Service
Cadre Strength3,894 members (2016)
SelectionCivil Services Examination
AssociationIPS (Central) Association

SP की पोस्ट, असिस्टेंट सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (ASP) की पोस्ट से उची होती है। एसपी की वर्दी खाकी रंग की होती है और उनके कंधे पर अशोक स्तंभ लगा हुआ होता है, साथ ही 1 स्टार भी होता है। इसलिए अगर किसी की वर्दी के ऊपर अशोक स्तंभ लगा है, साथ ही 1 स्टार भी है, तो आप यह जान सकते हैं कि वह एक SP है।

SP बनने के लिए क्वालिफिकेशन क्या है?

सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस बनने के लिए आईपीएस की एग्जाम में शामिल होने के लिए अभ्यर्थियों को ग्रेजुएशन पूरा करना जरूरी है, क्योंकि जो व्यक्ति ग्रेजुएट होता है, वही आईपीएस के एग्जाम में अप्लाई करने के लिए पात्रता रखता है। हालांकि ऐसे अभ्यर्थी भी इसमें अप्लाई कर सकते हैं, जो अपने ग्रेजुएशन के कोर्स के अंतिम वर्ष के स्टूडेंट हैं।

SP बनने के लिए आयु सीमा

गवर्नमेंट के द्वारा आरक्षण को ध्यान में रखते हुए विभिन्न वर्गों के लिए अलग-अलग उम्र सीमा तय की गई है,जो इस प्रकार है।

#1. सामान्य वर्ग

सामान्य यानी की जनरल वर्ग के लोग कम से कम 21 साल और अधिकतम 32 साल तक एसपी बन सकते हैं।

#2. ओबीसी वर्ग

ओबीसी यानी की अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थी कम से कम 21 साल और अधिक से अधिक 35 साल तक एसपी बन सकते हैं।

#3. एससी-एसटी वर्ग

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थी कम से कम 21 साल और अधिक से अधिक 37 साल तक एसपी बन सकते हैं।

SP बनने के लिए शारीरिक योग्यता क्या है?

SP बनने के लिए ग्रेजुएट होने के साथ-साथ आपको अपनी शारीरिक योग्यता पर भी ध्यान देना पड़ता है। एसपी की पोस्ट प्राप्त करने के लिए शारीरिक योग्यता की जानकारी निम्न प्रकार है।

  • आपको मानसिक और शारीरिक रूप से तंदुरुस्त होना जरूरी है।
  • एसपी की पोस्ट प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थी की ऊंचाई 165 सेंटीमीटर होनी चाहिए और उसकी छाती का नाप 85 सेंटीमीटर होनी चाहिए।आरक्षित वर्ग के लोगों को इसमें छूट मिल सकती है।
  • एसपी बनने की इच्छा रखने वाली महिलाओं की लंबाई कम से कम 150 सेंटीमीटर होनी चाहिए और अगर वह आरक्षण की श्रेणी में आती है, तो उन्हें लंबाई और वजन में छूट मिल सकती है।

SP की सिलेक्शन प्रक्रिया क्या है?

एसपी की पोस्ट प्राप्त करने के लिए जो परीक्षा आयोजित होती है, उसका आयोजन करवाने की जिम्मेदारी यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) यानी कि राज्य लोक सेवा आयोग के ऊपर होती है।

एसपी की पोस्ट प्राप्त करने के लिए आपको मुख्य तौर पर तीन चरणों से गुजरना होता है, जिसमें आपको प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू देना पड़ता है, जिसके बाद आपको आईपीएस की रैंक प्राप्त होती है और उसके बाद आप इंडियन पुलिस डिपार्टमेंट में अपनी सर्विस देना स्टार्ट कर सकते हैं।

#1. एसपी की प्रारंभिक परीक्षा

यूपीएससी के द्वारा करवाई जाने वाली एसपी की प्रारंभिक एग्जाम में टोटल 2 क्वेश्चन पेपर के जवाब विद्यार्थियों को देने पड़ते हैं। यह दोनों क्वेश्चन पेपर टोटल 200-200 अंकों के होते हैं और टोटल 2 घंटे का टाइम परीक्षा कमेटी के द्वारा विद्यार्थियों को दिया जाता है।

#2. एसपी की मुख्य परीक्षा

एसपी की प्रारंभिक परीक्षा को पास करने वाले अभ्यर्थियों को इसकी मुख्य परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलता है, जिसमें टोटल 6 क्वेश्चन पेपर होते हैं, जिसमें इंडियन लैंग्वेज के लिए 300 अंक, अंग्रेजी लैंग्वेज के लिए 300 अंक, निबंध के लिए 200 अंक और जनरल स्टडी के लिए 300 अंक तय होते हैं। इसके अलावा दो ऑप्शनल (वैकल्पिक) सब्जेक्ट भी होते हैं।

#3. इंटरव्यू

एसपी की प्रारंभिक एग्जाम और मुख्य परीक्षा को पास करने में सफल हुए अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलावा भेजा जाता है। इसका आयोजन इंटरव्यू कमेटी के द्वारा किया जाता है।

जब आप इस इंटरव्यू में जाते हैं, तब इंटरव्यू लेने वाले लोगों की टीम के द्वारा आपसे सीधे सवालों को भी कुछ इस प्रकार से घुमा फिरा कर पूछा जाता है, ताकि आप कंफ्यूज हो जाए परंतु आपको घबराना नहीं है, बल्कि आपको संयम के साथ और अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करके उनके सभी सवालों का जवाब देना है।

यह इंटरव्यू टोटल 250 अंकों का होता है और इस इंटरव्यू के द्वारा इंटरव्यू लेने वाली टीम इस बात का पता लगाती है कि, आप एसपी की पोस्ट संभालने के लिए जिम्मेदार व्यक्ति हैं या फिर नहीं। अगर आप इंटरव्यू में पासिंग अंक ला लेते हैं, तो उसके बाद आपको ट्रेनिंग पर भेज दिया जाता है।

और ट्रेनिंग कंप्लीट होते ही आपको सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस यानी कि SP की पोस्ट दी जाती है, जिसके बाद आप अपना काम स्टार्ट कर सकते हैं।

SP की सैलरी कितनी होती है?

सातवें वेतन आयोग के लागू होने के बाद अब वर्तमान समय में सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस को तकरीबन ₹80,000 से लेकर ₹90,000 तक की सैलरी महीने में प्राप्त होती है। इसके अलावा भी एसपी को गवर्नमेंट की तरफ से अन्य कई सुविधाएं भी दी जाती हैं।

एसपी का फुल फॉर्म क्या होता है?

एसपी का फुल फॉर्म सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस होता है।

किसी जिले में कितने SP की पोस्टिंग हो सकती है?

किसी जिले में सिर्फ एक ही एसपी की पोस्टिंग हो सकती है। किसी भी जिले का SP सिर्फ एक ही व्यक्ति होता है।

एसपी को हिंदी में क्या कहते हैं?

एसपी को हिंदी में पुलिस अधीक्षक कहते हैं।

एसपी की वर्दी कैसी होती है?

एसपी की वर्दी खाकी रंग की होती है। इनकी वर्दी पर कंधे पर अशोक स्तंभ और एक स्टार होता है।

निष्कर्ष

तो साथियों हम आशा रखते है की SP कैसे बने और एसपी की तैयारी कैसे करें के बारे मे अच्छे तरीके से समझ गए होंगे। अगर इस पोस्ट में लेख गेय तथ्य आपको अच्छा लगा तो इसे आपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले और अधिक जानकारी के लिए हमें संपर्क करें।

Leave a Comment